30 सितंबर को नागमणि करेंगे नई पार्टी की ऐलान, लोगों को पटना पहुंचने का दिया आमंत्रण

Gaya/newsaaptak.live desk:-बिहार लेनिन अमर शहीद जगदेव प्रसाद के सुपुत्र सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय भारत सरकार के पूर्व मंत्री सह बिहार के कद्दावर नेता नागमणि बिहार को नई राजनैतिक विकल्प देने को तैयार है और उन्होंने अपनी नई पार्टी की नाम का ऐलान 30 सितंबर को पटना गोला रोड स्थित टी प्वाइंट रिसोर्ट में बिहार के कोने-कोने से आए हजारों समर्थकों के साथ करेंगे.

इसके लिए नागमणि ने पूरे बिहार का दौरा की शुरुआत कल से कर दिया है, पहला दिन की शुरुआत पटना से गया आने के क्रम में मसौढ़ी, जहानाबाद, टेहटा, मखदुमपुर, बेलागंज में पखवारा दिवस के रूप में चल रहे अमर शहीद जगदेव प्रसाद की शहादत दिवस में श्रद्धांजलि सुमन अर्पित करने के पश्चात जनसभा को संबोधित करते हुए लोगों को 30 सितंबर को पटना पहुंचने का निमंत्रण दे रहे हैं.

नागमणि ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि बिहार पिछले 15 वर्ष लालू यादव की राज और 16 वर्षों से चल रहे नीतीश सरकार की राज में बिहार की स्थिति बद से बदतर हो गई है कथित सुशासन की सरकार में प्रतिदिन हत्या लूट बलात्कार अपहरण जैसे जघन्य अपराध चरम सीमा पर है,छात्रों नौजवानों का भविष्य खतरे में है, सरकारी कार्यालयों में भ्रष्टाचार व्याप्त है, ब्यूरोक्रेट्स जनता की शोषण कर रहे हैं, बिना घूस दिए हुए सरकारी कार्यालयों में एक भी काम नहीं होता है, शिक्षा एवं स्वास्थ्य व्यवस्था चौपट हो गई है.

ऐसी स्थिति में लोग वर्तमान नीतीश सरकार की शासन से उब चुके हैं और मुझे बिहार के कोने-कोने से लोगों ने नई पार्टी बना कर बिहार को नई दिशा और दशा देने का तथा बिहार की आम आवाम हो तीसरा विकल्प देने की अनुरोध कर रहे थे, लोगों की मांग पर बिहार के अंधी बहरी गूंगी सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए मैं नई पार्टी गठन करने का निर्णय लिया हूं जिसका नाम का ऐलान 30 सितंबर को पटना के गोला रोड में स्थित टी प्वाइंट रिसोर्ट में किया जाएगा.

सभा को संबोधित करते हुए नागमणि ने कहा कि हमारी जब सरकार बनेगी तो वर्षों से अपेक्षित एवं ठगा महसूस करने वाला कोयरी समाज से बिहार का मुख्यमंत्री होगा तथा दलित पिछड़ा मुस्लिम यादव एवम् स्वर्ण समाज से एक- एक उप मुख्यनमंत्री होगा. पार्टी में सभी धर्म और जाति के लोगों को सामाजिक समीकरण के अनुरूप समान अवसर दिया जाएगा.

टिकट बंटवारे में 40% टिकट महिलाओं को 25% छात्र नौजवानों को 10% मीडिया और पत्रकारिता से जुड़े लोगों को तथा 25% राजनीति के पुराने अनुभवी लोगों को दिया जाएगा इस प्रकार बिहार में 30 साल की लालू और नीतीश की सरकार से उब चुके लोगों को नई विकल्प के साथ नई सोच पर बेहतर बिहार बनाने हेतु नई सरकार की गठन की अवधारणा है.

30 सितंबर को अधिक से अधिक संख्या में नागमणि ने छात्रों नौजवानों किसानों से पटना पहुंचने का आग्रह किया है.

जनसभा को झारखंड सरकार के पूर्व मंत्री मुमताज अली, जगदेव सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोरंजन कुशवाहा, प्रखर समाजवादी नेता वीरभद्र यसराज, राम लखन स्वर्णकार, डॉ राजन,राजू यादव मुखिया जी, देवानंद पासवान आदि कई नेताओं ने संबोधित किया.

 109,030 total views,  584 views today

Share and Enjoy !

Shares
Shares