वारिसलीगंज पुलिस ने आतंक का पर्याय बन चुके अंतर जिला चोर गिरोह का किया उद्भेदन.

निर्भय कुमार वारिसलीगंज ( नवादा ): वारिसलीगंज थाना क्षेत्र के अलग-अलग गांवो में पिछले दो महीना के भीतर चोरी की घटना को अंजाम देकर आतंक फैलाने वाले अतंर्जिला चोर गिरोह का पर्दाफाश करने में पुलिस को सफलता मिली है। क्षेत्र में घट रही घटनाओ को अंजाम देने में शामिल चोर गिरोह के दो सदस्यों को तीन मोबाइल के साथ गिरफ्तार कर लिया गया है,जबकि गिरफ्तार चोर के अन्य चार साथी मौके से फरार हो जाने में सफल रहा। पुलिस ने बताई की चोरी गई मोबाईल फोन के लोकेशन के आधार पर रोहतास एवं लखीसराय से चोर की गिरफ्तारी संभव हो सकी है।

बता दें कि पिछले 02 महीनो से वारिसलीगंज बाजार सहित प्रखंड क्षेत्र के दर्जनों गांव मसूदा, कोरमा , मोसमा, बिशनपुर ,आजमपुर, बल्लोपुर ,गोपालपुर आदि में चोरी की घटना को अंजाम देकर घर में रखे नगदी सहित लाखों रुपए के जेवरात चोरी कर ले जाने में गिरोह के सदस्य सफल हो रहा था। चोरी की घटना को अंजाम देने में माहिर गिरोह के कोई भी सदस्य अब तक मौके वारदात पर पकड़ा नहीं जा सका था। जिस कारण दर्जनों चोरी की घटना के बावजूद पीड़ित के द्वारा अज्ञात चोरों के विरुद्ध स्थानीय थाना में मुकदमा दर्ज करावाई जा रही है। थाना क्षेत्र में करीब रोज हो रही चोरी की घटनाओ से लोग आतंकित थे। जिस कारण कुछ गांव के लोग रतजगा कर अपनी सुरक्षा करने को मजबूर थे। कुछ गांवो में एक ही रात में तीन घरों में चोरी की घटना को सफलतापूर्वक अंजाम देकर चोर फरार हो जा रहा था। 

चोरों के भय से थाना क्षेत्र के मसूदा गांव में काफी दहशत था। इसी कारण  पिछले सप्ताह गांव में चोर होने की बात कह चैनपुरा ग्रामीण गणित सिंह व अबधेश सिंह को मसुदा  गांव के लोगो द्वारा मारपीट की घटना को अंजाम दिया गया था । जबकि एक ही रात को थाना क्षेत्र के कोरमा गांव के तीन घरों में चोर गिरोह के द्वारा धावा बोल लाखों रुपए नकदी के साथ एक विवो कंपनी का एक मोबाइल फोन चोरों ने चुरा लिया था। चोरी की गई मोबाइल में सिम लगाते ही लोकेशन के आधार पर बुधवार की रात में वारिसलीगंज थानाध्यक्ष पवन कुमार के नेतृत्व में गठित टीम ने औरंगाबाद जिला निवासी राज खरबार का पुत्र सलमान खरबार को रोहतास से गिरफ्तार किया गया। बाद में उक्त चोर की निशानदेही पर लखीसराय जिला अंतर्गत वृंदावन गांव निवासी रामचंद्र गुलगुलिया का पुत्र रंजीत गुलगुलिया को लखीसराय से पकड़ने में सफलता प्राप्त हुई है।

पुलिस द्वारा बताया गया कि रोहतास में एक स्थान पर चार लुटेरा एकत्रित था। लेकिन पुलिस पहुंचने की भनक लगते ही  गोलू खरवार ,अजय खरवार सहित तीन चोर फरार होने में सफल हो गया।  गिरफ्तार  दोनों आरोपी चोर ने पुलिस की पूछताछ में  क्षेत्र के दर्जनों गांवो में हुई चोरी की घटना को अंजाम देने में अपनी संलिप्तता स्वीकार किया है।  बताया गया कि गिरोह के सभी सदस्य दिन भर वारिसलीगंज बाजार सहित रेलवे स्टेशन, रैक प्वाइंट आदि स्थानों पर रहते थे। रात होते ही दिन में रेकी किए गए गंतव्य स्थान पर धावा बोलकर चोरी की घटना को अंजाम दे देता था।

 2,967 total views,  2 views today

Share and Enjoy !

Shares
Shares