ऑफिसर ट्रेनिंग अकेडमी गया में प्रशिक्षण ले रहे पासिंग आउट परेड में 20 जवान बने अधिकारी.

Gaya /newsaaptak.live/desk:-ऑफिसर ट्रेनिंग अकेडमी, गया का ड्रिल स्क्वायर अपनी 19वीं पासिंग आउट परेड के अवसर पर पेशेवर सैन्य वैभव एवं आकर्षण से सराबोर था. इस पासिंग आउट परेड में स्पेशल कमीशन ऑफिसर क्रमांक-46 के 20 जेंटलमैन कैडेट अधिकारी के रूप में भारतीय सेना में कमीशन प्राप्त किया है.

स्पेशल कमीशन ऑफिसर में असम रायफल के 09 कैडेटों ने भी कमीशन प्राप्त किया गया है. वहीं 60 जेंटलमैन कैडेट, टेक्नीकल एंट्री स्कीम क्रमांक- 43 के जेंटलमैन कैडेट अपना एक वर्षीय बुनियादी सैन्य प्रशिक्षण पूरा कर तकनीकी शिक्षा हेतु देश के विभिन्न सैन्य तकनीकी संस्थानों जैसे- मिलिट्री कॉलेज ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड मैकनिकल इंजीनियरिंग, सिकंदाराबाद, मिलिट्री कॉलेज ऑफ टेलिकम्यूनिकेशन्स इंजीनियरिंग, मऊ एवं कॉलेज ऑफ मिलिट्री इंजीनियरिंग, पुणे से इंजीनियरिंग में स्नातक डिग्री प्राप्त करने के लिए गए हैं

जेंटलमैंन कैडेट द्वारा प्रस्तुत सैन्य पारंपरिक सौम्य मनोहर ड्रिल की छटा इस क्षण को महत्वपूर्ण बना रही थी. लेफ्टिनेंट जनरल जी ए वी रेड्डी, शौर्य चक्र, विशिष्ट सेवा मेडल, समादेशक, अफसर प्रशिक्षण अकादमी, गया इस मनोरम अवसर के निरीक्षण अधिकारी सह मुख्य अतिथि होंगे.कैडेट्स ने निरीक्षण अधिकारी को सैन्य सैल्यूट दिया गया है तत्पश्चात एक शानदार मार्च पास्ट करते हुए सलामी दी गई है .

निरीक्षण अधिकारी ने प्रशिक्षण के दौरान अच्छा प्रदर्शन करने वाले जेंटलमैन कैडेट्स को पुरस्कृत किया गया. एस सी ओ कोर्स में सभी क्षेत्रों में बेहतर प्रदर्शन करने वाले एकेडमी कैडेट एड्जूडेंट गुरुमयुम कैनेडी शर्मा को रजत पदक से सम्मानित किया गया. वसंत सत्र -2021 के प्रशिक्षण काल में सभी क्षेत्रों अच्छा प्रदर्शन करने वाले प्रशिक्षु कंपनी, गुरेज को प्रतिष्ठित चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ बैनर प्रदान किया गया है . इसके बाद परेड को संबोधित करते हुए जनरल अधिकारी ने जेंटलमैन कैडेट्स को उनके बेहतरीन ड्रिल प्रदर्शन के लिए बधाई दी है.जनरल जी ए वी रेड्डी ने उनके गौरवशाली भविष्य की मंगलकामना करते हुए कहा कि आपका भविष्य निःस्वार्थ और गौरवमयी सेवा से भरा हो .

उन्होंने लाइव परेड देख रहे वहा उपस्थित अभिभावकों को धन्यवाद देते हुए लेफ्टिनेंट जनरल जी ए वी रेड्डी ने कहा कि वे अभिभावक सौभाग्यशाली होते हैं, जिनके पुत्र एक प्रतिष्ठित पेशा में सेवा देते हैं.उन प्रतिष्ठित पेशाओं में सैन्य सेवा भी शामिल हैं.

ओ.टी.ए. गया की स्थापना 18 जुलाई 2011 में आदर्श वाक्य शौर्य, ज्ञान, संकल्प के साथ हुई है. अभी यह अकादमी स्पेशल कमीशन ऑफिसर और टेक्नीकल इंट्री स्कीम जो TES और SCO के रूप में क्रमशः जाने जाते हैं उनका प्रशिक्षण चला रही है. इसमें टी ई एस के प्रशिक्षु 10+2 की शिक्षा के बाद अकादमी में प्रवेश पाते हैं और प्रशिक्षण प्राप्त कर सशस्त्र सेना का हिस्सा बनते हैं. SCO कैडेट विभिन्न पदों से चयनित होकर आते हैं।

 964 total views,  2 views today

Share and Enjoy !

Shares
Shares