गया डीएम ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर जनप्रतिनिधियों से टीकाकरण हेतु लोगों को प्रेरित करने का किया अनुरोध.

Gaya /newsaaptak.live:-गया डीएम अभिषेक सिंह की अध्यक्षता में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोविड-19 टीकाकरण को गांव एवं पंचायत स्तर पर सफलतापूर्वक क्रियान्वयन हेतु पंचायत जनप्रतिनिधियों यथा मुखिया, सरपंच, प्रखंड प्रमुख इत्यादि के साथ आज बैठक करते हुए अनुरोध किया कि वह स्वयं कोरोना का टीका ले तथा अपने क्षेत्र के आम जनों को भी टीका लेने हेतु प्रेरित एवं जागरूक करें।

 जिला प्रशासन द्वारा लोगों को शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्रों में शत-प्रतिशत टीका लेने हेतु प्रेरित किया जा रहा है, परंतु जनप्रतिनिधि होने के नाते आप का यह दायित्व है कि आप लोगों को टीका लेने हेतु प्रेरित करें तथा अफवाह/ भ्रांतियों को दूर करने में जिला प्रशासन को सहयोग करें। कुछ जनप्रतिनिधि टीकाकरण कार्य में अच्छा सहयोग कर रहे हैं परंतु बड़े पैमाने पर लोगों को टीका लेने हेतु जागरूक एवं प्रेरित करने की आवश्यकता है। जिलाधिकारी ने बताया कि टीका एक्सप्रेस वाहन के माध्यम से ग्रामीणों को टीका की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है, परंतु प्रयास यह है कि कोरोना जैसे भयानक संक्रमण से मुक्ति हेतु शत प्रतिशत लोगों को टीका लगाया जाए।अतः आप पंचायत जनप्रतिनिधि को टीकाकरण हेतु लीड रोल का निर्वहन करना आवश्यक होगा।

अगर कहीं आपको लगता है कि टीकाकरण सत्र स्थल अतिरिक्त बनाने की आवश्यकता है इस संबंध में आप प्रखंड विकास पदाधिकारी या प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी से बात कर टीकाकरण सत्र स्थल की संख्या बढ़वा सकते हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में आम जनों के बीच टीकाकरण से संबंधित कुछ भ्रांतियां हैं जिन्हें दूर करना आवश्यक है ।●जिला पदाधिकारी ने बताया कि टीका पूरी तरह वैज्ञानिक तरीके से काफी रिसर्च के बाद तैयार किया गया है●ब्लड प्रेशर, ब्लड शुगर, थायराइड, हार्ट के मरीज, कैंसर से पीड़ित मरीज, किडनी, लीवर या अन्य गंभीर रोग से ग्रसित मरीज भी टीका ले सकते हैं।

जम्मू कश्मीर तथा अन्य मुस्लिम बहुल देशों /राज्यों में टीकाकरण लेने की गति काफी उत्साहजनक है। जिन देशों/ राज्यों में टीकाकरण अधिक हुआ है वहां कोरोना संक्रमण का दर काफी कम हो गया है।गया जिला में दोनों टीका यथा कोविशिल्ड तथा को-वैक्सीन पर्याप्त संख्या में है तथा दोनों समान रूप से कारगर है। जनप्रतिनिधियों से अनुरोध किया कि जिस प्रकार आप ने विकास कार्यों में जिला प्रशासन का सहयोग दिया है, उसी प्रकार टीकाकरण कार्य में भी उत्साह के साथ पूरे मन से सहयोग दें। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में ग्रामीणों के बीच मास्क वितरण की समीक्षा के क्रम में सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को निर्देश दिया गया कि जीविका द्वारा मास्क आपूर्ति के एवज में भुगतान तेजी के साथ करें। इस बैठक में बताया गया कि 30 लाख मास्क जीविका द्वारा आपूर्ति की गई है।वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में पंचायत जनप्रतिनिधियों को बताया गया कि 15 जून को सभी पंचायत जनप्रतिनिधियों का कार्यकाल समाप्त हो रहा है। सरकार द्वारा परामर्शी समिति का गठन संबंधी अधिसूचना जारी की गई है जिसके फलस्वरूप पंचायत के चुनाव न होने पर भी आप पंचायत जनप्रतिनिधियों द्वारा पूर्व की भांति अधिकार एवं कार्य और अधिक प्रभावी तरीके से किये जा सकेंगे।

वही नगर प्रखंड प्रमुख सुचिता रंजनी ने डीएम से तमाम जनप्रतिनिधियों को प्राथमिकता के साथ टीकाकरण कराने का अनुरोध किया है उन्होंने कहा है कि जिस प्रकार सरकारी कर्मचारियों एवं पत्रकारों को टीकाकरण प्राथमिकता के साथ किया गया है उसी तर्ज पर पहले जनप्रतिनिधियों को भी टिकाकरण कराए जाने की आवश्यकता है जिला प्रशासन के द्वारा ऐसा कदम नहीं उठाया जाना काफी खेद जनक है।  

  इस बैठक में उप विकास आयुक्त सुमन कुमार, अपर समाहर्ता मनोज कुमार, अपर समाहर्ता लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी नरेश झा, जिला पंचायत राज पदाधिकारी सुनील कुमार, अनुमंडल पदाधिकारी सदर, सिविल सर्जन, नजारत उप समाहर्ता, जिला परिवहन पदाधिकारी, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी, विशेष कार्य पदाधिकारी, डीपीएम स्वास्थ्य, सभी वरीय उप समाहर्तागण, जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी, सहित अनुमंडल स्तर पर अनुमंडल पदाधिकारी, प्रखंड स्तर पर प्रखंड विकास पदाधिकारी, सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी तथा पंचायत स्तर के जनप्रतिनिधि वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में शामिल थे।

 4,647 total views,  2 views today

Share and Enjoy !

Shares
Shares