एड्स की दवा खोजने के क्रम में चीन के वुहान लैब में बना कोरोना वायरस:लुक मोंटेनर का दावा.

Newsaaptak.live Desk:-पूरी दुनिया में तबाही मचा रहे कोरोना वायरस के संदर्भ में नोबेल पुरस्कार विजेता लुक मॉन्टेनर ने दावा किया है कि चीन के वुहान लैब में एड्स की रोकथाम के लिए बनाई जाने वाली एक दवा को तैयार करते समय कोरोना वायरस की उत्पत्ति हुआ है.ज्ञात हो कि देश में बढ़ते कोरोना वायरस के प्रकोप के शुरुआती दिनों से ही चीन का वुहान लैब अमेरिका सहित कई देशों के निशाने पर हैं और वुहान लैब की गतिविधि पर सवाल खड़ा कर रहे हैं,जबकि चीन इससे इनकार करता रहा है. एक फ्रांसीसी समाचार चैनल को दिए इंटरव्यू में प्रोफ़ेसर लुक मोंटेनर में कहा है कि कोरोना वायरस मानव द्वारा तैयार किया गया वायरस है जिसे एड्स की रोकथाम के लिए बनाई जाने वाली एक दवा को तैयार करते समय बनाया गया है.

यह ज्ञात हो कि प्रोफेसर लुक मोंटेनर को 2008 में एड्स की दवा के लिए नोबेल पुरस्कार दिया गया था. उन्होंने यह भी दावा किया है कि वायरस को बुहान की लैब में ही तैयार किया गया है.फ्रांसीसी न्यूज़ चैनल को दिए इंटरव्यू में प्रोफेसर मोंटेनर ने कहा है कि नए वायरस के जीनोम में एचआईवी और मलेरिया के कीटाणुओं और तत्वों की मौजूदगी इसकी ओर इशारा करती है.

उन्होंने दावा किया है कि नया कोरोनावायरस प्राकृतिक रूप से उत्पन्न हुआ ही नहीं हो सकता यह एक औद्योगिक हादसा है जो बुहान नेशनल वायोसेफ्टी लैब में हुआ है,वुहान बायोसिफ्टी लैब में वर्ष 2000 से ही कोरोना वायरस पर अध्ययन हो रहा है, वह इस मामले में विशेषज्ञ हैं और उन्होंने वायरस को खत्म करने के लिए तरंगों की थ्योरी (वेव थ्योरी) का प्रस्ताव भी दिया है.

एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार दावा किया जा रहा है कि चीन के वुहान लैब में वैज्ञानिकों ने जानवरों के वायरस खोजने के लिए चीनी सेना की मदद की थी, इसमें पांच टीम लीडरों में शामिल ‘शी झेंगली उर्फ वैट वुमन’और एक सीनियर सेना अधिकारी काओ वूचुन भी सैंपल खोजने गुफाओं में गए थे. अमेरिका के जाने-माने संस्थान वेंडन इंस्टिट्यूट ऑफ वायरोलॉजी का आरोप है कि कोरोना वायरस फैलाने में चीन के सेना और नागरिक दोनों शामिल हैं, जबकि डब्ल्यूएचओ (W.H.O) ने साफ कर दिया है कि वुहान लैब से corona नहीं फैला है यह किसी जानवर से इंसानों तक पहुंचा है. बता दें कि अमेरिकी विदेश विभाग ने वुहान लैब में नए कोरोना वायरस के बारे में शुरुआती दौर में ही सूचना दे दी थी और बताया था कि चीन समेत पूरी दुनिया में एक नया वायरस कहर बरपाएगा.

सीनियर जर्नलिस्ट तारिक फतेह ने भी ट्वीट कर कहा है कि corona virus वुहान लैब का ही देन है. वहीं शुरुआती दौर से ही अमेरिका ब्रिटेन समेत 12 अन्य देशों ने चीन से इस महामारी के नमूनों को शेयर करने की अपील की थी लेकिन बीजिंग ने उसे खारिज कर दिया था जिसके बाद चीन की काफी आलोचना हुई थी.

 5,353 total views,  4 views today

Share and Enjoy !

Shares
Shares