गया डीएम ने किया मगध मेडिकल का औचक निरीक्षण,संक्रमित मरीजों को बेहतर इलाज हेतु दिए कई निर्देश.

Gaya report/DPRO: गया डीएम अभिषेक सिंह के द्वारा मगध मेडिकल अस्पताल के एमसीएच बिल्डिंग में कोविड-19 से संक्रमित भर्ती मरीजों का जायजा लेने के उद्देश्य से औचक निरीक्षण किया गया। जिला पदाधिकारी ने प्रभारी अधीक्षक मगध मेडिकल अस्पताल को एमसीएच भवन के बाहरी परिसर, ग्राउंड फ्लोर, फर्स्ट फ्लोर एवं अन्य स्थानों पर पर्याप्त संख्या में कोविड-19 से बचाव एवं सावधानियां तथा जिला नियंत्रण कक्ष एवं अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल अस्पताल में बनाए गए कंट्रोल रूम का मोबाइल नंबर इत्यादि का अविलम्ब बैनर पोस्टर लगवाने का सख्त निर्देश दिया।

कोविड-19 से संक्रमित मरीजों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग/ व्हाट्सएप वीडियो कॉलिंग डॉक्टरों द्वारा ली जा रही हालचाल का जायजा लिया. उन्होंने प्रभारी अधीक्षक को ग्राउंड फ्लोर के लिए अलग कंप्यूटर सेटअप एवं फर्स्ट फ्लोर के लिए अलग कंप्यूटर सिस्टम लगवाने का निर्देश दिया ताकि सभी संबंधित मरीजों को ससमय उनकी स्वास्थ्य संबंधित जानकारी लिया जा सके। इसके उपरांत उन्होंने प्रथम तल्ले पर चिकित्सीय ड्यूटी कक्ष का निरीक्षण किया उन्होंने उक्त कक्ष में बड़े आकार का टेलीविजन लगाने का निर्देश दिया ताकि सभी संबंधित सीसीटीवी कैमरे का वीडियो फुटेज अवलोकन किया जा सके। उन्होंने अधीक्षक को मरीजों के बेड पर बिछाए गए चादर को प्रतिदिन बदलवाने का हिदायत दिया। जिला पदाधिकारी ने ऑन ड्यूटी चिकित्सकों, नर्सों एवं प्रतिनियुक्त वरीय अधिकारियों को मोबाइल टैब के माध्यम से मरीजों को वीडियो कॉलिंग के माध्यम से प्रतिदिन दो-दो, तीन-तीन घंटे के अंतराल पर फीडबैक लेने का निर्देश दिया।

साथ ही उन्होंने सहायक समाहर्ता गया को प्रतिदिन कितने मरीजों का कॉल अटेंड किया गया एवं कितने मरीजों द्वारा समस्याएं बताई गई इत्यादि विषयों का मॉनिटरिंग करने का निर्देश दिया। उन्होंने अधीक्षक को अस्पताल में रखे गए सभी बायो वेस्ट डस्टबिन में साइनेज लगाने का निर्देश दिया। अस्पताल के सभी शौचालय एवं टॉयलेट का नियमित साफ-सफाई करवाते रहने का निर्देश दिया। ऑक्सीजन गैस अलार्म की नियमित जांच कराते रहने का भी निर्देश दिया। उन्होंने अधीक्षक को निर्देश दिया कि संक्रमण से बचाव को ध्यान में रखते हुए अस्पताल में भर्ती मरीजों का अनावश्यक वस्तुओं/ सामग्रियों को वार्ड के अंदर ना रखें।

अस्पताल में भर्ती कुछ मरीजों के परिजनों द्वारा अनुरोध किया गया जिसके फलस्वरूप जिला पदाधिकारी ने उपस्थित डॉक्टरों को हिदायत देते हुए ऑन द स्पॉट मरीजों के समस्याओं को दूर किया साथ ही सहायक समाहर्ता को प्रत्येक दिन नियमित अंतराल पर अस्पताल का निरीक्षण करने का निर्देश दिया। उन्होंने वरीय अधिकारी को निर्देश दिया कि रात्रि के समय मरीजों को लगाए गए ऑक्सीजन के फ्लो स्पीड का औचक निरीक्षण करते रहेंगे।निरीक्षण के क्रम में सहायक समाहर्ता, डीपीएम स्वास्थ्य सहित अन्य वरीय अधिकारी उपस्थित थे।

 536 total views,  6 views today

Share and Enjoy !

Shares
Shares